Sarkari Job,sarkari job,sarkari result,sarkari exam,sarkariresult,sarkariexam

Sarkari Job

SARKARI JOB FIND

WWW.SARKARIJOBFIND.COM

Welcome To Sarkari Result, Sarkari Exam, (SARKARIJOBFIND.COM)

PM Kisan Yojana : अटक सकते हैं 4000 रुपये, किसानों के खाते में 15 तारीख को आएगी 12वीं किस्त

Last Updated On September 10, 2022

PM Kisan Yojana

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) देश के किसानों ( Farmer ) को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से केंद्र द्वारा शुरू की गई एक योजना है।इस पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) के तहत, केंद्र द्वारा लाभार्थियों को बुनियादी जरूरतों में मदद करने के लिए कुल 6000 रुपये की राशि हस्तांतरित की जाती है |



अब उन किसानों ( Farmer ) के खातों में योजना की अगली किस्त जमा होने में कुछ ही दिन शेष हैं, जिनके पास अब पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से अपने भुगतान की स्थिति ऑनलाइन जांचने की सुविधा है

PM Kisan Yojana लिस्ट में नाम ज़रूर चेक करें 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) के तहत मोदी सरकार, किसानों की आर्थिक मदद करती है. केंद्र सरकार किसानों ( Farmer ) के लिए इस योजना की 12वीं किस्त (पीएम किसान सम्मान निधि 12वीं किस्त) जारी करने वाली है। ऐसे में अगर आपने भी इस योजना में अपना रजिस्ट्रेशन करा लिया है तो अभी से उसका स्टेटस चेक करना शुरू कर दें, ताकि आपकी किस्त फंस न जाए |



गौरतलब है कि केंद्र सरकार किसानों ( Farmer ) को हर साल 6000 रुपये की आर्थिक सहायता देती है। यह राशि हर चार महीने में 2000 रुपये की किस्त के रूप में किसानों के खाते में भेजी जाती है. अब तक सरकार ने 9 किस्तें किसानों के खाते में भेजी हैं और अब 12वीं किस्त किसानों के खाते में भेजी जा रही है ! इसके लिए आप पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) स्टेटस में अपना नाम चेक करते रहें ।

PM Kisan yojana 12 kistjpg

PM Kisan Yojana New Kist 2022

देश में किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार करने और उनके भविष्य को सुरक्षित करने के लिए भारत सरकार कई योजनाओं को चला रही है। इसी कड़ी में भारत सरकार किसानों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को चला रही है। इस योजना के अंतर्गत हर साल किसानों के खाते में तीन किस्त के रूप में दो-दो हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती है। भारत सरकार अब तक किसानों के खाते में कुल 11 किस्त को ट्रांसफर कर चुकी है।



वहीं जल्द ही किसानों के खाते में 12वीं किस्त के पैसे भी भेजे जा सकते हैं। ऐसे में देश भर में कई किसान 11वीं किस्त के पैसे आने के बाद 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं। अगर आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं, तो इसी कड़ी में आइए जानते हैं सरकार कब तक किसानों के खाते में 12वीं किस्त के पैसों को ट्रांसफर कर सकती है।



70 लाख किसान हो सकते हैं 12वीं किस्त से वंचित, जानें, इसके पीछे का कारण

किसानों के बीच पीएम किसान योजना काफी लोकप्रिय योजना है। इसकी खास वजह ये हैं कि इस योजना के जरिये केंद्र सरकार देश के किसानों की आर्थिक रूप से मदद करती है। इस योजना के तहत सरकार की ओर से किसानों को हर साल 6 हजार रुपए सीधे उनके खाते में दिए जाते हैं।ये राशि हर चार माह के अंतराल में 2-2 हजार रुपए की तीन समान किस्तों में किसानों के खाते में ट्रांसफर की जाती है। इस योजना से किसानों को काफी आर्थिक संबल मिलता है। अब तक किसानों को इस योजना की 11 किस्तें मिल चुकी हैं और 12वीं किस्त के आने का उन्हें बेसब्री से इंतजार है। तो बता दें कि इस योजना की 12वीं किस्त 5 सितंबर 2022 तक किसानों के खाते मेें दी जा सकती है।

लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम

    1. किसान ( Farmer ) अपना नाम चेक करने के लिए सबसे पहले आप पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
    2. अब होमपेज पर आपको ‘किसान कॉर्नर’ का विकल्प दिखाई देगा।
    3. किसान कॉर्नर सेक्शन में ‘लाभार्थियों की सूची’ के विकल्प पर क्लिक करें।
    4. अब ड्रॉप डाउन लिस्ट से राज्य, जिला, उप जिला, ब्लॉक और गांव का चयन करें।
    5. अब आप ‘गेट रिपोर्ट’ पर क्लिक करें।




  1. इसके बाद आपके सामने पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) लाभार्थियों की पूरी लिस्ट आ जाएगी, जिसमें आप अपना नाम चेक कर सकते हैं।

अपनी गलती का सुधार इस तरह करें 

अगर किसी किसान ( Farmer ) के खाते में 9वीं किस्त नहीं आई है तो हो सकता है कि आपके दस्तावेज़ में कुछ कमी रह गई हो. कई बार लोग अपना आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर भरने में गलती कर देते हैं। जिससे उनकी किश्त अटक जाती है। अगर आपने भी ऐसी गलती की है तो आप घर बैठे पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) में सुधार सकते हैं |

  1. गलती सुधारने के लिए सबसे पहले  पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं।
  2. अब इसके किसान कार्नर में जाकर एडिट आधार डिटेल्स ऑप्शन पर क्लिक करें।
  3. अब आप यहां आधार नंबर डालें, कैप्चा कोड भरें और सबमिट करें।
  4. अगर आपको यहां कोई गलती दिखाई देती है तो आप उसे ऑनलाइन ठीक कर सकते हैं।
  5. अगर कोई अन्य गलती दिखाई देती है तो अपने लेखाकार और कृषि विभाग के कार्यालय से संपर्क करें।
  6. हेल्पडेस्क ऑप्शन के जरिए आप अपना आधार नंबर, अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर डालकर गलतियों को सुधार सकते हैं
  7. आप आधार नंबर में सुधार, स्पेलिंग में गलती जैसी कई गलतियों को सुधार सकते हैं।

PM Kisan Yojana 12वीं किस्त की जानकारी 

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के माध्यम से किसानों को प्रति वर्ष ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। सरकार द्वारा यह आर्थिक सहायता तीन किस्तों में प्रदान की जाती है। पहली किस्त April से July के बीच, दूसरी किस्त August से november तथा तीसरी किस्त december से march के बीच प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सरकार द्वारा eKYC करवाना भी अनिवार्य कर दिया गया है। सरकार द्वारा अब तक इस योजना के अंतर्गत 11 किस्तें प्रदान की जा चुकी है। 11वीं किस्त के अंतर्गत 11.3 Crore किसानों के खाते में 1.82 lakh crore रुपए transfer किए गए हैं। अब सरकार द्वारा पीएम किसान 12वी किस्त के प्रदान करने की तैयारी की जा रही है।



केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत केवाईसी कराने के लिए लाभार्थियों बड़ी सुविधा प्रदान की गई है अब योजना के लाभार्थी 31 अगस्त तक अपनी केवाईसी करा सकते हैं पहले यह तिथि सरकार द्वारा 31 जुलाई निर्धारित की गई थी मगर अब इसे बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया है हम आपको बता दें कि केवल केवाईसी पंजीकृत लाभार्थियों को ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा आप यह केवाईसी योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ओटीपी के माध्यम से भी कर सकते हैं इसके अलावा आप अपने नजदीकी सेवा केंद्र में जाकर यह केवाईसी कर सकते हैं

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published.